शिक्षकों और कर्मचारियों पर कार्रवाई नहीं तो 26 बीएसए को नोटिस

  



लखनऊ। शासन की ओर से हर महीने बेसिक विद्यालयों में शिक्षकों-कर्मचारियों की उपस्थिति की औचक जांच कराई जाती है। इस जांच में अनुपस्थित मिलने वाले शिक्षकों की सूचना समय पर अपलोड न करने व कार्रवाई न करने पर शासन ने नाराजगी जताई। है। इसके लिए 26 जिलों के बीएसए को नोटिस जारी की गई है।


विभाग की ओर से सितंबर- अक्टूबर निरीक्षण में क्रमशः 6799 व 7761 शिक्षक बिना सूचना के स्कूल से अनुपस्थित मिले थे। संबंधित बीएसए को इसकी व उनपर की गई कार्रवाई की सूचना प्रेरणा एप पर अपलोड करनी थी। किंतु ऐसे 45 फीसदी मामलों में बीएसए की ओर से कार्रवाई नहीं की गई। इस पर महानिदेशक स्कूल शिक्षा विजय किरन आनंद ने नाराजगी जताई है। उन्होंने रायबरेली, सीतापुर, बरेली, प्रयागराज, कानपुर नगर व देहात, शामली, इटावा समेत 26 जिलों के बीएसए को नोटिस जारी की है। कहा है कि अनुपस्थित पाए गए शिक्षकों- कर्मचारियों के खिलाफ शत-प्रतिशत कार्रवाई कर इसकी सूचना 20 नवंबर तक प्रेरणा एप पर अपलोड करें। लापरवाही मिलने पर संबंधित बीएसए का उत्तरदायित्व निर्धारित किया जाएगा।