32 सहायक अध्यापकों समेत 92 का वेतन काटा


बलिया, वरिष्ठ संवाददाता। निरीक्षण के दौरान विद्यालय से अनुपस्थित मिले 92 शिक्षक, शिक्षामित्र व अनुदेशकों के खिलाफ बीएसए मनीष कुमार सिंह ने कार्रवाई की है। इसमें 33 सहायक अध्यापक हैं।


सभी का अनुपस्थित तिथि का वेतन काटते हुए सम्बंधितों से स्पष्टीकरण तलब किया है। बीएसए ने स्पष्ट किया है कि बिना सूचना विद्यालय से अनुपस्थित रहना घोर लापरवाही और अनुशासनहीनता है। इसे बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। बीएसए की इस कार्रवाई से विभागीय गलियारे में हड़कम्प है।


बीएसए ने बताया कि महानिदेशक स्कूल शिक्षा एवं राज्य परियोजना निदेशक के आदेश के क्रम में विद्यालयों का नियमित निरीक्षण एवं कार्यक्रमों की प्रगति का अनुश्रवण लगातार खण्ड शिक्षा अधिकारी एवं जिला समन्वयकों द्वारा प्रेरणा पोर्टल के माध्यम से किया जा रहा है। इसी क्रम में 26 अक्तूबर से नौ नवम्बर के बीच किये गये निरीक्षण में 92 अध्यापक, शिक्षामित्र, अनुदेशक व चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी बिना किसी सूचना के अनुपस्थित पाये गये है, जिनका विवरण प्रेरणा पोर्टल पर अंकित है।


बीएसए ने बताया कि निरीक्षण के दौरान अपने विद्यालय से अनुपस्थित पाया जाना, अनुशासनहीनता तथा उच्चाधिकारियों के आदेशों-निर्देशों की अवहेलना तो है ही सौंपे गये कार्यों व दायित्वों के निर्वहन में घोर लापरवाही भी है। यह किसी भी दशा में स्वीकार्य नहीं हैं। इससे विभागीय छवि धूमिल हो रही है। बीएसए ने सम्बन्धित अध्यापक, शिक्षामित्र व अनुदेशकों का अनुपस्थित तिथि का वेतन/मानदेय कटौती करते हुए अनुपस्थिति का साक्ष्य के साथ स्पष्टीकरण सात दिनों के अंदर खण्ड शिक्षा अधिकारी के माध्यम से तलब किया गया है।