ऑनलाइन हाजिरी के विरोध में 55 ARP शिक्षकों ने दिया इस्तीफा

 


खमरिया, । ऑनलाइन हाजिरी के विरोध में ईसानगर के 55 एआरपी शिक्षकों ने बीईओ को सामूहिक इस्तीफा सौंप दिया। शिक्षकों ने बेसिक शिक्षा महानिदेशक के फरमानों को तानाशाही करार देते हुए गैर शैक्षणिक कार्यों के बहिष्कार का ऐलान किया।


प्राथमिक शिक्षक संघ के आह्वाहन पर ईसानगर में तैनात 55 एआरपी शिक्षक संघ के बैनर तले अध्यक्ष लालता प्रसाद वाजपेयी की अगुआई में एकत्र हुए। एआरपी ने इस मौके पर सामूहिक त्यागपत्र बीआरसी मुख्यालय पर खण्ड शिक्षा अधिकारी अखिलानन्द राय को सौंप दिया। संघ ने कहा कि महानिदेशक बेसिक शिक्षा विजय किरण आंनद स्कूलों में बुनियादी जरूरतों को पूरा करने में नाकाम रहे हैं। स्कूलों में फर्नीचर, बिजली और पानी तक की सुविधाओं के लिए पहल नहीं कर पा रहे हैं। स्कूलों में चोरियां रोकने के कोई उपाय महानिदेशक के पास नहीं है। पर वे शिक्षकों को लगातार निशाना बना रहे हैं। जिसे किसी भी कीमत पर स्वीकार नहीं किया जाएगा। शिक्षकों ने एलान किया कि गैर शैक्षणिक कार्यों का बहिष्कार होगा और जरूरत पड़ी तो इंचार्ज पद से भी सामूहिक त्यागपत्र दिए जाएंगे।


बिजुआ के सभी संकुल शिक्षकों ने दिया इस्तीफा


बिजुआ। स्थानीय ब्लॉक के सभी संकुल शिक्षकों ने शिक्षा विभाग से आ रहे दिन प्रतिदिन के अव्यावहारिक आदेशों के अनुपालन से किया इनकार कर दिया है। सभी संकुल शिक्षकों ने मिलकर एक साथ खंड शिक्षा अधिकारी को अपना इस्तीफा सौंपा। इस्तीफे में सभी संकुल शिक्षकों ने लिखा है कि हम लोगों को संकुल शिक्षक नियुक्त किया गया था जिसका कार्य समय पूरा हो चुका है। वर्तमान समय में हम लोगों पर शिक्षण कार्य के अतिरिक्त अन्य विभागीय कार्यों का भार बढ़ता जा रहा है।