साइबर ठग ने नए तरीकों से शिक्षक के बैंक खाते से उड़ाए 66 हजार

 


 पूरनपुर, । बस का टिकट कैंसल कराने पर सरकारी स्कूल में कार्यरत शिक्षक को साइबर ठग ने 66 हजार रुपए का चूना लगा दिया। बैंक से रुपए डिबेट होने का मैसेज आने पर शिक्षक को ठगी का एहसास हुआ। इससे उनमें खलबली मच गई। उन्होंने कार्रवाई के लिए पुलिस को तहरीर दी है।


साइबर ठग नए-नए तरीकों से भोले-भाले लोगों को अपने जाल में फंसा उनसे रुपए ऐंठ रहे हैं। पूरनपुर के एक और व्यक्ति को साइबर ठग ने अपना शिकार बना लिया। नगर के मोहल्ला पंकज कालोनी के रहने वाले रविकांत शुक्ला घुंघचाई के परिषदीय स्कूल में कार्यरत हैं। उन्होंने बताया कि 12 नबंवर को अपने साथी के लिए काशीपुर से पूरनपुर तक का बस टिकट रेड बस एप पर बुक किया।


उनके आने का प्रोग्राम चेंच होने पर टिकट को कैंसल करना चाहे थे लेकिन एप पर यह सुविधा नहीं मिली। इसपर गुगल पर टिकट कैसिलेशन कस्टर केयर का नंबर सर्च कर उससे टिकट कैंसल करने के संबंध में जानकारी चाही। उसने बताया कि मोबाइल की सेटिंग में कुछ दिक्कत का हवाला दिया। उसकी बातों में आकर उसके बताने के अनुसार सेंटिंग को चेंट करते गए। फोन काल कट होने के कुछ ही देर में बैंक से 66 हजार 666 रुपया कटने का मैसेज आ गया। इसपर फ्राड होने की जानकारी हुई। उन्होंने बताया कि साइबर ठग पर कार्रवाई और रुपए वापस कराने की मांग को लेकर पुलिस को तहरीर दी है। इसमें साइबर ठग का नंबर और उसके पेटीएम अकाउंट का भी हवाला दिया गया है। सरकारी स्कूल के शिक्षक के साथ ठगी होने से अन्य शिक्षक भी परेशान हैं। उन्होंने साइबर ठगों पर कठोर कार्रवाई करने की मांग उठाई है।