प्रधानाध्यापक घर ले जा सकेंगे टैबलेट

 



 लखनऊ। परिषदीय विद्यालयों के प्रधानाध्यापक व वरिष्ठ सहायक अध्यापक छुट्टी होने के बाद टैबलेट अपने साथ घर ले जा सकेंगे। इस संबंध में राज्य परियोजना निदेशक विजय किरन आनंद ने सभी जिला बेसिक शिक्षा अधिकारियों को आदेश जारी कर दिया है।


मालूम रहे कि परिषदीय विद्यालयों को कामकाज के लिए टैबलेट उपलब्ध कराए गए हैं। यह टैबलेट विद्यालय अवधि में संबंधित प्रधानाध्यापक एवं वरिष्ठतम सहायक अध्यापक के पास रहेगा। विद्यालय बंद होने पर वे अपने साथ इसे घर ले जा सकेंगे।


इसके रखरखाव की जिम्मेदारी पूरी तरह से संबंधित प्रधानाध्यापक व वरिष्ठतम सहायक अध्यापक की रहेगी। टैबलेट के संचालन के लिए सिम कार्ड एवं इंटरनेट की सुविधा के लिए कंपोजिट ग्रांट से व्यय किया जा सकेगा। एक टैबलेट के लिए अधिकतम 1500 रुपये और दो के लिए तीन हजार रुपये तक खर्च किया जा सकेगा।