बच्चों से पहले शिक्षकों को भाषा में निपुण बनाया जाएगा: महानिदेशक

 


सरकारी स्कूलों school के कक्षा एक से तीन तक के छात्र-छात्राओं को गणित और भाषा में निपुण nipun बनाया जाएगा। प्रयागराज में प्रशिक्षण लेकर आए मास्टर ट्रेनर सभी एकेडमिक रिसोर्स पर्सन (एआरपी) ARP को इसका प्रशिक्षण देंगे।प्रशिक्षण लेने के बाद एआरपी ARP ब्लॉक स्तर पर अध्यापकों teacher और शिक्षामित्रों को ट्रेंड करेंगे। इसके बाद बच्चों को गणित और भाषा में निपुण बनाने का कार्य किया जाएगा। 30 अक्तूबर से डायट पर शिक्षकों teacher के प्रशिक्षण का काम शुरू होगा।


बेसिक शिक्षा विभाग basic shiksha vibhag के एक अधिकारी ने बताया कि निपुण भारत मिशन के तहत कक्षा एक से तीसरी तक के विद्यार्थियों की भाषा और गणित पर मजबूत पकड़ बनाने के लिए वर्षों से काम चल रहा है। शिक्षकों teacher को विभिन्न प्रकार के प्रशिक्षण दिए जा रहे हैं। साथ ही विद्यार्थियों का मूल्यांकन करने के लिए समय समय पर निपुण असेसमेंट परीक्षाओं Exam का आयोजन होता है। अब निपुण भारत मिशन के तहत ही पहले गुरु जी और फिर सरकारी स्कूलों school के कक्षा एक से तीन तक के छात्र- छात्राओं को गणित और भाषा में निपुण बनाने का निर्णय लिया गया है।


सभी बीआरसी brc पर जिले के अध्यापकों teacher और शिक्षामित्रों को प्रशिक्षण दिया जाएगा। बता दें कि प्रयागराज से जिले के चार मास्टर ट्रेनर प्रशिक्षण लेकर लौटे हैं। यह मास्टर ट्रेनर जिले के सभी एआरपी को डायट पर प्रशिक्षण देंगे। एआरपी ARP प्रशिक्षण लेने के बाद अध्यापकों teacher को ब्लॉकों पर प्रशिक्षित करेगी। प्रशिक्षण लेने के बाद अध्यापक अपने ब्लॉकों में शिक्षा ले रहे बच्चों को भाषा और गणित में निपुण करेंगे।


परिषदीय स्कूलों school के कक्षा एक से तीन के बच्चों को गणित और भाषा में निपुण किया जाएगा। इसके लिए सभी अध्यापकों teacher को प्रशिक्षण दिया जाएगा। बहुत जल्द अध्यापकों teacher को ब्लॉकों पर ट्रेनिंग दिलाई जाएगी।


– राज सिंह यादव, प्राचार्य डायट