मनचाहे तबादले के लिए परीक्षा होगी

 


मनचाहे तबादले के लिए गुरुजी को अब परीक्षा पास करनी पड़ेगी। सरकार शिक्षकों के स्थानांतरण प्रक्रिया में एक नया बिन्दु जोड़ने जा रही है। इसके तहत परिषदीय स्कूलों के शिक्षकों को मनचाहे स्कूलों में तैनाती के लिए अब कम्प्यूटर आधारित टेस्ट (सीबीटी) पास करना पड़ेगा। मुख्यमंत्री अभ्यूदय एवं कम्पोजिट विद्यालयों के लिए श्रेष्ठ शिक्षकों का चयन भी इसी परीक्षा के माध्यम से किया जाएगा।


में प्रदेश के स्कूली शिक्षा की गुणवत्ता सुधार के लिए सरकार यह नई व्यवस्था लागू करने जा रही है। इसके तहत मेरिट के आधार पर शिक्षकों प्रोत्साहित किया जाएगा। सरकार का मानना है कि मेरिट के आधार पर शिक्षकों को स्कूल आवंटित करने से शिक्षकों के बीच प्रतिस्पर्धा बढ़ेगी और वे अधिक से अधिक बेहतर परिणाम दे सकेंगे। सभी जिलों में इस परीक्षा का आयोजन किया जाएगा।


स्कूल शिक्षा महानिदेशक विजय किरण आनन्द की माने तो परीक्षा की तैयारियां शुरू कर दी गई है। अगले महीने से ही इसे लागू किया जाएगा। शुरुआत मुख्यमंत्री अभ्यूदय कम्पोजिट विद्यालयों से की जाएगी। इसके लिए श्रेष्ठ शिक्षकों को चुनने के लिए यह परीक्षा ली जाएगी। सरकार प्रदेश के सभी जिलों में एक-एक मुख्यमंत्री अभ्यूदय विद्यालय खोलने जा रही है।