बीईओ ने शिक्षकों से ही मांगा चरित्र प्रमाणपत्र, पदोन्नति के लिए शिक्षक खुद बनाएंगे अपनी गोपनीय कैरेक्टर रिपोर्ट

 



 लखनऊ: बीएसए ने जनपद के प्रत्येक विकासखंड के बीईओ (खंड शिक्षा अधिकारी) से ब्लॉक से पदोन्नति के लिए पात्र शिक्षकों की सूची मांगी है। लेकिन, खंड शिक्षा अधिकारी अब शिक्षकों से ही उनकी गोपनीय चरित्र आख्या मांग रहे हैं।


एनबीटी, लखनऊ: बीएसए ने जनपद के प्रत्येक विकासखंड के बीईओ (खंड शिक्षा अधिकारी) से ब्लॉक से पदोन्नति के लिए पात्र शिक्षकों की सूची मांगी है। लेकिन, खंड शिक्षा अधिकारी अब शिक्षकों से ही उनकी गोपनीय चरित्र आख्या मांग रहे हैं। अधिकारी के आदेश से शिक्षक असमंजस में हैं। मामला सरोजनीनगर विकासखंड से जुड़ा है। संघ के अध्यक्ष सुधांशु मोहन ने बताया कि शिक्षकों की पदोन्नति को लेकर सर्विस बुक समेत तमाम रेकॉर्ड खंड शिक्षा अधिकारी कार्यालय में मौजूद हैं।


 ऐसे में शिक्षक अपनी गोपनीय चरित्र आख्या बनाकर कैसे दे सकता है? उधर, खंड शिक्षा अधिकारी ने बेसिक शिक्षा कार्यालय से प्राप्त सभी शिक्षकों को अपनी आख्या बनाकर प्रधानाध्यापक से सत्यापित कर दो प्रतियों में जमा करने के निर्देश दिए हैं। बता दें कि पदोन्नति को लेकर 19 नवंबर तक शिक्षकों की सूची पोर्टल पर अपलोड की जानी है। सुधांशु कहते हैं कि कोई भी शिक्षक अपने स्वयं मूल्यांकन में खुद को खराब कैसे बताएगा ?