अजब - गजब बेसिक और लेखा विभाग के अधिकारियों की लापरवाही, यूपी की शिक्षिका का वेतन पहुंचा गुजरात


ऊंचाहार (रायबरेली)। विकास क्षेत्र में कार्यरत एक शिक्षिका का वेतन किसी दूसरे के खाते में चला गया। यह खाता गुजरात प्रांत का है। यह शिक्षिका हाल ही में अमेठी से स्थानांतरित होकर यहां आई है। इस जिले में उसे यह पहला वेतन मिलना था, लेकिन गड़बड़ी से दूसरी जगह चला गया।

शिक्षिका के खाते में वेतन नहीं आया तो उसने इसकी शिकायत की। छानबीन में वेतन गुजरात के खाते में चले जाने की बात सामने आने से बेसिक और लेखा विभाग की लापरवाही उजागर हुई है। मामला विकास क्षेत्र के प्राथमिक विद्यालय कल्यानी का है। यहां तैनात शिक्षिका आशा देवी का अक्तूबर महीने का वेतन उसके खाते में नहीं आया। विकास क्षेत्र के कंदरावां गांव की रहने वाली शिक्षिका आशा देवी प्राथमिक विद्यालय कल्यानी में सहायक अध्यापिका के पद पर कार्यरत है। इसके पहले वह अमेठी जिले के गौरीगंज क्षेत्र में कार्यरत थी। स्थानांतरित होकर यहां आने के बाद 23 सितंबर को प्राथमिक विद्यालय कल्यानी में काम शुरू किया। इस जिले में उसे पहले वेतन के रूप में अक्तूबर की सैलरी भेजी गई, लेकिन उसके ऊंचाहार स्थित बैंक आफ बड़ौदा के खाते में नहीं आई।


विभागीय सूत्र बताते हैं कि अब तक की छानबीन में शिक्षिका आशा देवी का वेतन गुजरात प्रांत के झगडिया जिला स्थित बैंक आफ बड़ौदा के एक खाते में चला गया है। जिस खाते में वेतन गया, उस खाताधारक ने धन निकाल भी लिया है। खंड शिक्षा अधिकारी अरविंद कुमार सिंह का कहना है कि शिक्षिका का वेतन दूसरे के खाते में चले जाने की शिकायत मिली है। यह लेखा विभाग की त्रुटि से हुआ है। शिक्षिका को जल्दी वेतन दिलाया जाएगा।