जहर खाने से शिक्षक की मौत में बीईओ गिरफ्तार



आठ साल से वेतन न मिलने से मजबूर शिक्षक ने खाया था जहर

साढ़े तीन माह पूर्व आठ साल से वेतन न मिलने से मजबूर होकर जहर खाने से शिक्षक की मौत हो गई थी।


इस मामले में शिक्षक ने बीईओ समेत तीन लोगों को दोषी बताते हुए सुसाइड नोट लिखा था। इस मामले में दर्ज मुकदमे के आरोपी कायमगंज खंड शिक्षा अधिकारी गिरिराज सिंह को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। नगर के मोहल्ला काजम खां निवासी अनिल कुमार त्रिपाठी ने आठ साल से वेतन न मिलने पर 27 सितंबर की शाम को जहर खा लिया था। अनिल ने जहर खाने से पहले सुसाइड नोट लिखा था। इसमें खंड शिक्षा अधिकारी गिरिराज सिंह, लिपिक सुरेन्द्र नाथ अवस्थी, उच्च प्राथमिक स्कूल के प्रधानाध्यापक निर्देश गंगवार को जिम्मेदार ठहराया था।


बीएसए गौतम प्रसाद ने विभागीय जांच कराई। प्रधानाध्यापक व लिपिक को निलंबित कर दिया। बीईओ पर कार्रवाई के लिए रिपोर्ट भेज दी।


शिक्षक के पुत्र आशीष त्रिपाठी ने बीईओ समेत उक्त तीनों के खिलाफ आत्महत्या के लिए मजबूर करने के आरोप में मुकदमा दर्ज कराया था। शनिवार को मामले के विवेचक प्रमोद कुमार यादव ने आरोपी खंड शिक्षा अधिकारी गिरिराज सिंह को बस स्टैंड के पास से गिरफ्तार कर लिया।